India Soldiers से युद्ध का जोखिम नहीं उठा सकता China, ये रहे Dragon की कमजोर Immunity के 5 सबूत पूरी खबर पढ़े|

Lifestyle Media Trending World

Super Power बनने का ख्वाब देने वाला Chinaदरअसल एक कमजोर देश है. चीन की अर्थव्यवस्था लचर है. Coronavirusसंकट के बाद वो World में अलग-थलग पड़ चुका है. हम आपको आर्थिक से सामरिक मोर्चे तक China की पांच ऐसी कमजोरियां बताते हैं, जिनकी वजह से वो War का खतरा नहीं उठा सकता है.

China की Unfit सेना
चीन की सेना दिखती ताकतवर है लेकिन अंदर से वो कमजोर है. भले ही China अपनी सैन्य तैयारियों का Video दिखाए. अपनी शक्ति का प्रोपेगेंडा करे लेकिन सच्चाई ये है कि अगर जंग की नौबत आ गई तो चीन की सेना India के सामने टिक नहीं पाएगी. ये बात खुद China के रक्षा विशेषज्ञ भी मानते हैं. भारत और चीन के बीच एलएसी यानी लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल का ज्यादातर हिस्सा पहाड़ी इलाका है और इस क्षेत्र में युद्ध के लिए भारत की सेना चीन के मुकाबले ज्यादा अनुभवी और ताकतवर है. 

वैसे तो चीन की सेना सैनिकों की संख्या के लिहाज से दुनिया की सबसे बड़ी फौज मानी जाती है. चीन की पीएलए यानी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी में करीब 20 Lakh Soldiers हैं. लेकिन China सेना से जुड़ी एक Report में खुलासा हुआ था कि उसके 20% Soldiers युद्ध के लिए अनफिट हैं. 

आर्थिक रूप से Bad Situation है China की
China की अर्थव्यवस्था डांवाडोल है. बेरोजगारी बढ़ती जा रही है. Corona काल में चीन पर से World भरोसा उठने लगा है. एक वक्त था जब चीन निर्माण क्षेत्र का सबसे अहम देश हुआ करता था लेकिन अब विकसित और विकासशील दोनों तरह के देश चीन से अपने प्लांट शिफ्ट करने की तैयारी कर रहे हैं. वहीं भारत को दुनिया एक नए अवसर की तरह देख रही है और कई विदेशी कपंनियां India में निवेश करने की तैयारी कर चुकी हैं. China कहीं ना कहीं भारत की मजबूत हो रही अर्थव्यवस्था से भी बौखलाया हुआ है. China और America के बीच ट्रेड वॉर चल रहा है और कोरोना से आई विश्वव्यापी मंदी के दौर में चीन के लिए इससे निपटना आसान नहीं है.

Corona Virus
कोरोना वायरस की वजह से China World में हर तरफ से घिर चुका है. हर देश Cina पर उंगलियां उठा रहा है और चीन के खिलाफ जांच की मांग लगातार तेज होती जा रही है. Corona का सबसे घातक असर America और Europe में देखने को मिला. जहां हजारों लोगों की मौत हो गई और ये सिलसिला जारी है. अमेरिकी राष्ट्रपति Trump Corona को चीन का वायरस बता चुके हैं. अमेरिका से यूरोप तक चीन को अलग-थलग करने की मांग उठ रही है. चीन दुनिया में अलग-थलग पड़ चुका है. आने वाले दिनों में China की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं.

सुपरपावर America से China के खराब रिश्ते
China और America के संबंध कभी अच्छे नहीं रहे. इसकी सबसे बड़ी वजह यह भी है कि चीन अमेरिका को पछाड़कर Super Power बनने के सपने देखता है. दोनों देशों के बीच Trad War का लंबा इतिहास रहा है. Corona काल में USA और China के रिश्तों में और भी ज्यादा तल्खी आई है.

सामरिक मोर्चे पर भी घिरा China
हिंद महासागर से लेकर South China सी तक चीन हर मोर्चे पर घिरता जा रहा है. South China सी में चीन के आक्रामक तेवर को देखते हुए America और China के बीच तनातनी के हालात बने रहते हैं. इन कमजोरियों के साथ China India को चुनौती देने की हिम्मत नहीं कर सकता है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *